*मुख्तार अंसारी के घर वालों से मिले अखिलेश यादव, जताई शोक संवेदना*





*मुख्तार की मौत के मामले में हाईकोर्ट के जज से जांच करने की मांग*
गाजीपुर। बांदा जेल में बंद पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी की मौत के बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उनके पैतृक निवास स्थान मुहम्मदाबाद पहुंचे, जहां पहुंचने के बाद वह उनके परिजनों से मिलकर अपनी शोक संवेदना प्रकट करते हुए श्रद्धांजलि दी।
सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी एवं उनके परिजनों से मिलने के बाद शहीद इंटर कॉलेज मुहम्मदाबाद के मैदान में मीडिया से बातचीत में कहा कि स्वयं मुख्तार अंसारी एवं उनके परिवार के लोग लगातार अपनी जान की सुरक्षा की गुहार लगाते रहे, लेकिन सरकार ने उनकी सुरक्षा व्यवस्था की तरफ तनिक भी ध्यान नहीं दिया।
अखिलेश यादव अपने निर्धारित समय से 15 मिनट की देरी से 12: 45 पर अपने निजी उड़न खटोले से इंटर कॉलेज मुहम्मदाबाद के मैदान पर उतरे, जहां से वह चार पहिया वाहन के काफिले के साथ मुख्तार अंसारी के पैतृक निवास फाटक में पहुंचकर मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी बड़े भाई सांसद अफजाल अंसारी, भतीजे सोहेब उर्फ़ मन्नू अंसारी सहित अन्य परिजनों से मुलाकात कर शोक संवेदना प्रकट की। मुलाकात के दौरान अंसारी परिवार के आवास पर मीडिया कर्मियों एवं सामान्य जनता के लिए पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी। अखिलेश यादव की सुरक्षा व्यवस्था में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई थी।उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी के सफाई का मन बना चुकी है। मुख्तार अंसारी प्रकरण में उनहोंने ने वर्तमान सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार को ऐसा कार्य करना चाहिए कि डेमोक्रेसी अर्थात लोकतंत्र बचा रहे। लेकिन यह सरकार उसके विपरीत काम कर रही है। मुख्तार अंसारी की मौत के प्रकरण में सीबीआई जांच की मांग के सवाल पर कहा कि हमारी मांग सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान जज द्वारा जांच किए जाने की है। हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। मुख्तार अंसारी की फरार पत्नी अफसा अंसारी के हाजिर न होने के सवाल पर अखिलेश यादव चुप्पी साथ गए। अंसारी परिवार का दोबारा सपा में लिए जाने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति हमेशा वर्तमान परिस्थितियों के आधार पर की जाती है। इस मौके पर पूर्व मंत्री व विधायक ओमप्रकाश सिंह, नारद राय, घोसी लोकसभा प्रत्याशी राजीव राय , सनातन पांडेय, सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष रामधारी यादव, जंगीपुर विधायक वीरेंद्र यादव, मन्नू अंसारी के साथ भारी मात्रा में सपा के नेता एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

इनसेट..
*भारी फोर्स की तैनाती में मीडिया कर्मियों को भी ब्रैकेटिंग से रखा गया दूर*
गाजीपुर। मुहम्मदाबाद में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के पहुंचने पर युसूफपुर बाजार में सांसद आवास फाटक की तरफ जाने वाले सभी रास्ते व गलियों में बैरेकेटिंग करके भारी मात्रा में फोर्स तैनात कर दी गई थी। जिससे कोई भी व्यक्ति सांसद आवास की तरफ नहीं जा सका। आवास के अन्दर जाने वालों की सूची पहले से तैयार थी, उसी व्यक्ति को आधार कार्ड देखकर सुरक्षा कर्मी अंदर जाने दे रहे थे।मीडिया कर्मियों को भी बैरेकेटिंग से बाहर रखा गया। जिससे उन्हें समाचार कवरेज में काफी दिक्कतें आई। कई महत्वपूर्ण सपा नेताओं को भी आवास में जाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। पूर्व मंत्री नारद राय को भी पुलिस वालों ने नहीं जाने दिया, तो वे वापस आकर मछली बाजार की गली से फाटक तिराहे तक पैदल गए और अफजाल अंसारी से मोबाइल पर बात की। तब उन्हें अंदर जाने दिया गया। शेख टोला में जिनका घर था, वे अपने घरों में भी नहीं जा सके। पुलिस वालों ने कहा कि अखिलेश यादव के जाने के बाद ही आप अपने घरों में जा सकेंगे। पावर हाउस रोड, फल मंडी व फाटक के इर्द- गिर्द की दुकानें बंद करा दी गई थी। पूरे क्षेत्र को सील कर पैरामिलिट्री व पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए थे।





Please share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!